अयोध्या समाचार: अयोध्या में नशा तस्करों पर पुलिस की कार्रवाई, 298 किलो गांजा ले जा रहे 3 तस्कर गिरफ्तार

1 min read

अयोध्या। उत्तर प्रदेश की रामनगरी अयोध्या नशा तस्करों का गढ़ बनती जा रही है. अयोध्या पुलिस लगातार इसकी सप्लाई चेन तोड़ने की कोशिश कर रही है. इसी कड़ी में क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम और गोसाईगंज पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस की संयुक्त टीम ने 298 किलो अवैध गांजा बरामद करते हुए पिता-पुत्र समेत तीन तस्करों को गिरफ्तार किया है. जबकि एक बेटा भागने में सफल रहा। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।एसपी ग्रामीण अतुल सोनकर ने बताया कि पिता राजेश कुमार उर्फ ​​खन्ना और उसके 2 बेटे नशे का कारोबार करते हैं. वे नशा करने वालों को अवैध गांजा मुहैया कराते हैं। इसी कड़ी में पुलिस ने ड्रग पेडलर राजेश कुमार उर्फ ​​खन्ना और उसके बेटे अंशु गुप्ता को गिरफ्तार किया है. जबकि राजेश का दूसरा बेटा भागने में सफल रहा। पुलिस ने गांजा खरीदने वाले श्यामलाल को भी गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से 2 किलो अवैध गांजा बरामद किया गया है। पुलिस ने तीनों नशा कारोबारियों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। बता दें कि राजेश पर अयोध्या और अंबेडकर नगर जिले में 8 आपराधिक मामले दर्ज हैं। जबकि दूसरे आरोपी श्यामलाल पर अयोध्या जिले में 9 आपराधिक मामले दर्ज हैं, जिनमें से अधिकांश मादक पदार्थों की तस्करी से संबंधित हैं।घर के बेसमेंट को अड्डा बना लिया थाअधिक जानकारी देते हुए एसपी ग्रामीण अतुल सोनकर ने बताया कि राजेश कुमार उर्फ ​​खन्ना लंबे समय से अवैध मादक पदार्थों की बिक्री का काम कर रहा है. मुखबिर की सूचना के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी राजेश कुमार उर्फ ​​खन्ना को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. उसके पास से कुछ दवाएं भी मिली हैं। ऐसे में जब पुलिस ने उससे पूछताछ की तो आरोपी ने बताया कि और भी नशीला पदार्थ रखा हुआ था. इसके बाद पुलिस आरोपी की निशानदेही पर घर के नीचे बने बेसमेंट में पहुंची और मौके से 298 किलो गांजा बरामद किया गया. इसके साथ ही राजेश उर्फ ​​खन्ना ने पुलिस को बताया कि उसके दो बेटे भी इस धंधे में शामिल हैं. एसपी ग्रामीण अतुल सोनकर ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी के साथ ही वह जगह भी बताई जा रही है जहां से उन्होंने गांजा प्राप्त किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed