ओडिशा रेल हादसा: 40 साल पहले आगरा में टकराई थी दो ट्रेनें, ओडिशा ने वापस याद दिलाई दुर्घटना ।

1 min read

विस्तार

ओडिशा के बालासोर में हुए ट्रेन हादसे ने लोगों को झकझोर कर रख दिया। आगरा रेल मंडल में भी करीब 40 साल पहले सोहल्ला में कोहरे के दौरान दो ट्रेनों की आमने-सामने टक्कर हो गई थी। इस भीषण हादसे में कई यात्रियों की मौत हो गई थी. इसके बाद फराह और कीथम के बीच एक पैसेंजर ट्रेन मालगाड़ी से टकरा गई।

यहां हुआ हादसा

40 साल तक रेल उपयोगकर्ता सलाहकार समिति के सदस्य रहे राजकुमार नागरथ ने ओडिशा हादसे पर दुख जताया. उन्होंने बताया कि पहले कोहरे में ट्रेन हादसे ज्यादा होते थे। सबसे भीषण दुर्घटना वर्ष 1982-83 में आगरा कैंट के पास हुई थी। तभी दक्षिण एक्सप्रेस और एक अन्य पैसेंजर ट्रेन की आमने-सामने टक्कर हो गई। दोनों इंजन बंद हो गए थे। कई लोगों की मौत हो गई थी. उन्होंने बताया कि कोहरे में छिटपुट हादसे हो जाते थे।

कीथम-फराह के बीच भी एक हादसा हुआ था

सर्दियों में ही कीठम-फराह के बीच एक ट्रेन की कपलिंग टूटने के बाद आगे चल रही मालगाड़ी के डिब्बों से उसकी टक्कर हो गई. इस हादसे में भी कई यात्रियों की जान चली गई। अब रेलवे ने सेफ्टी को लेकर काफी सुधार का काम किया है।

तब संसाधन कम थे

रेल सलाहकार समिति के सदस्य राजकुमार शर्मा का कहना है कि करीब बीस साल पहले राजा मंडी स्टेशन के पास भी एक हादसा हुआ था। तब संसाधन कम थे। उड़ीसा जैसी घटनाएं मन को विचलित कर देती हैं।

विज्ञापन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed