यूपी रोड | यूपी के हाईवे भी हाईवे की तरह चौड़े और खूबसूरत होंगे, यह आंकड़ा लोक निर्माण सचिव द्वारा सौंपा गया है।

1 min read

 

यूपी हाईवे

लखनऊ: उत्तर प्रदेश को ‘उत्तम प्रदेश’ बनाने के लिए प्रयासरत योगी सरकार ने राज्य की सड़कों के विस्तार, सुदृढ़ीकरण और सौंदर्यीकरण के लिए बड़े पैमाने पर प्रयास शुरू कर दिए हैं. सड़क यात्रा को आसान, सुरक्षित और यात्रा में लगने वाले समय को कम करने के प्रयास में उत्तर प्रदेश के बुनियादी ढांचे के विकास को बढ़ावा देने के साथ-साथ राज्य में तीन राज्य राजमार्गों को चौड़ा करने और मजबूत करने के काम में तेजी आई है।

साथ ही राज्य के कई क्षेत्रों में चिह्नित ब्लैक स्पॉट को हटाने के साथ ही आगरा में तीन और बरेली में छह पुलों के निर्माण से संबंधित कार्यों को पूरा करने के लिए धन आवंटन की स्वीकृति दी गई है. प्रयागराज संभाग के 35 मार्गों के कार्यों को सुचारू रखने के लिए राज्य पथ निधि से राशि आवंटन की प्रक्रिया शुरू हो गई है.

तीन स्टेट हाईवे के लिए 58 करोड़ रुपये स्वीकृत

प्रदेश में स्टेट हाईवे के सुदृढ़ीकरण का मार्ग प्रशस्त करने में जुटी योगी सरकार ने तीन स्टेट हाईवे पर चल रहे कार्यों के लिए कुल 58 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत कर आवंटन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. इसी क्रम में कौशांबी पर्यटन स्थल को प्रयागराज हवाई अड्डे से जोड़ने वाली सड़क को फोर लेन करने, प्रयागराज से भरतगंज-प्रतापपुर मार्ग को चौड़ा करने तथा आजमगढ़ में चिरैयाकोट बेलथरारोड को चैनेज करने तथा 4-4 को दो लेन में 39.6 किमी चौड़ा करने के लिए 50 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है. रुपये की धनराशि जारी करने की प्रक्रिया। इसी क्रम में लोक निर्माण विभाग द्वारा प्रथम किस्त में 46.0 करोड़ रुपये तथा द्वितीय किस्त में 12.4 करोड़ रुपये अवमुक्त करने का आदेश जारी किया गया है.

पुलों के निर्माण के लिए राशि भी जारी कर दी गई है

वर्ष 2018 से 2022 के बीच आगरा मंडल क्षेत्र में स्वीकृत कुल तीन पुलों के लिए कुल 4.54 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है। इसके तहत मथुरा में पीलीभीत से भरतपुर मार्ग (कृष्णापुरी चौराहा के समीप) पर बन रहे पुल, फिरोजाबाद में आया नदी पर लघु पुल तथा मैनपुरी में मड्डापुर से मिर्जापुर मार्ग पर बन रहे लघु पुल तथा वर्तमान स्वीकृत राशि का उपयोग किया जायेगा. एप्रोच रोड में सुरक्षात्मक कार्यों के लिए। वहीं, बरेली में छह विभिन्न पुलों के निर्माण के लिए 9 करोड़ दो लाख रुपये और बस्ती में निर्माणाधीन नए पुल के लिए 1.10 करोड़ रुपये की धनराशि के आवंटन को मंजूरी दी गई है.

इसे भी पढ़ें

ब्लैक स्पॉट खत्म करने पर जोर

दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में चिह्नित ब्लैक स्पॉट को हटाने और सड़क के सौंदर्यीकरण के संबंध में कार्रवाई की प्रक्रिया लगातार जारी है. इसी क्रम में अमरोहा जिले में हसनपुर स्थित मार्गों पर चिन्हित ब्लैक स्पॉट तथा हरदोई में बिलग्राम सांडी-अलालगंज मार्ग पर भी ब्लैक स्पॉट चिन्हित करने के लिए 1.74 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है. साथ ही इसी राशि का उपयोग संबंधित सड़क खंड में पड़ने वाले चौराहों के सुदृढ़ीकरण के लिए भी किया जाएगा। इसी तरह प्रदेश के अन्य हिस्सों में भी ब्लैक स्पॉट हटाने का सिलसिला जारी है।

प्रयागराज के 35 मार्गों का होगा कायाकल्प

राज्य के प्रयागराज संभाग में स्थित विभिन्न जिलों की 35 सड़कों के कायाकल्प का मार्ग राज्य संपत्ति निधि के उपयोग से सुनिश्चित किया गया है। इसी क्रम में लोक निर्माण विभाग से इन स्वीकृत मार्गों के निर्माण हेतु वर्ष 2021 से 2023 तक अनुमानित राशि रू0 10.63 करोड़ आवंटित करने का आदेश प्राप्त हुआ है। इनमें फतेहपुर में छह, प्रतापगढ़ में नौ, कौशांबी में आठ और प्रयागराज में 12 प्रस्तावित रूट शामिल हैं। इसके अलावा, राज्य सरकार के मार्गदर्शन में लोक निर्माण विभाग द्वारा धार्मिक पर्यटन के लिए महत्वपूर्ण स्थानों के राजमार्गों और गलियारों के प्रवेश-निकास बिंदुओं पर स्वागत द्वार बनाने के व्यापक प्रयास किए जा रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *