लखनऊ ड्रग पार्टी: टेलीग्राम का बड़ा जाल, वीडियो में देख सकते हैं 8 नए चेहरे, बड़े पेडलर्स से रिश्ते की तलाश

1 min read

 

लखनऊ में ड्रग्स पार्टी: टेलीग्राम पर बड़ा जाल, वीडियो में दिखे आठ नए चेहरे

इंस्टाग्राम रील के जरिए हुआ ड्रग्स पार्टी का भंडाफोड़!

विस्तार

ड्रग पार्टी तस्करों का गिरोह सोशल मीडिया पर सक्रिय था. टेलीग्राम पर बड़ा जाल फैला हुआ था. वह टेलीग्राम पर कई ग्रुप में शामिल है. इसमें ड्रग्स की डिमांड की गई थी. तस्कर दिए गए पते पर ड्रग्स पहुंचाते थे। सीतापुर और हरदोई में बड़ी संख्या में कॅरियर हैं। वहीं जब मोबाइल से मिले सभी वीडियो की जांच की गई तो उसमें सात-आठ नए लोग नजर आए. आशंका है कि वह भी गिरोह में शामिल है. जांच एजेंसी उनके बारे में जानकारी जुटा रही है. अब तक की जांच में कुछ ऐसे सबूत सामने आए हैं, जिससे इस गिरोह के तार कई बड़े ड्रग तस्करों से जुड़े होने की आशंका जताई जा रही है.

गिरफ्तार आरोपियों तरूण, पंकज, अजलम हुसैन और स्वास्तिका को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया. सूत्रों के मुताबिक तस्करों ने सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर कई आईडी बना रखी हैं, जिनके अलग-अलग नाम हैं. इनके जरिए वे युवाओं को फंसाने की कोशिश करते हैं। यह भी जानकारी मिली है कि यह तस्कर स्कूल और कॉलेज के छात्रों के भी संपर्क में है. किसी को शक न हो इसलिए गैंग में स्वास्तिका को शामिल किया गया. वह ज्यादातर लोकल सप्लाई करता था। जिस तरह से अधिक रकम बरामद की गई, उससे आशंका है कि यह रैकेट बहुत बड़ा है.

मुंबई से फरार होने का डर

मुख्य आरोपी लकी और अरुण उर्फ ​​आर्यन व अंश की तलाश में कई टीमें लगी हुई हैं। उनके मोबाइल बंद हैं. सूत्रों के मुताबिक ये सभी मुंबई में हैं. एसटीएफ इन सभी को जल्द से जल्द पकड़ने की कोशिश कर रही है, क्योंकि ज्यादा जानकारी उन्हीं के पास है. गिरफ्तार आरोपियों ने जिस ऐप से ऑनलाइन ड्रग्स ऑर्डर करने की बात कही थी, वह ऐप अभी तक एसटीएफ को नहीं मिल पाई है।

 

सारा डेटा हटा दिया गया

 

आरोपी बेहद शातिर हैं. उनके मोबाइल से सभी चैट और अन्य डेटा डिलीट कर दिया गया है. जांच एजेंसी इसे बरामद करने की कोशिश कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed