समाचार यूपी | विकास एवं निर्माण परियोजनाओं को कुशलतापूर्वक एवं समय पर पूरा करें: सीएम योगी।

1 min read

 

UP CM Yogi Adityanath

UP CM Yogi Adityanath

वाराणसी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे। यहां उन्होंने सबसे पहले समीक्षा बैठक की। अधिकारियों को निर्देशित किया कि निर्माणाधीन विकास एवं निर्माण कार्यों को युद्धस्तर पर अभियान चलाकर गुणवत्ता के साथ समय सीमा में पूरा करें। योजनाओं का लाभ प्राथमिकता के आधार पर लाभार्थियों तक पहुंचाया जाए। उन्होंने रिंग रोड के किनारे शहर का विस्तार व बस अड्डे स्थापित किए जाने पर विशेष जोर दिया। कहा कि रिंग रोड के किनारे ट्रांसपोर्ट नगर बसाया जाए। सीएम ने वेयरहाउस को स्थानांतरित कराए जाने की बात कही।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार को वाराणसी पहुंचे। सीएम ने  सर्किट हाउस में विभागीय परियोजनाओं तथा कानून व्यवस्था की समीक्षा  की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को संचारी रोग से निपटने के लिए सभी तैयारियां समय से पूरा किए जाने का निर्देश देते हुए लापरवाही बर्दाश्त  न बरतने की बात कही। डेंगू, चिकनगुनिया आदि संक्रामक रोगों के दृष्टिगत प्रभावित क्षेत्रों में दवाओं का छिड़काव सहित अस्पतालों में समुचित व्यवस्था और ओपीडी में डॉक्टरों की 24 घंटे उपस्थिति सुनिश्चित कराई जाए। सर्विलांस टीम एक्टिवेट रखी जाए।

समय से कार्यालय में बैठें अफसर

मुख्यमंत्री ने वाराणसी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को जनता की समस्याओं को सुगमता से निस्तारण करने को कहा। उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने कार्यालयों में समय से बैठें और जन सामान्य की समस्याओं का प्राथमिकता पर निस्तारण सुनिश्चित करें। कार्यों को मेरिट के आधार पर निस्तारित कराएं। स्ट्रीट वेंडरों को ज़ोन में सुरक्षित पुनर्वास किया जाए और इसमें लापरवाही बरतने वालों की जवाबदेही तय की  जाए।

स्वच्छता पर मुख्यमंत्री का रहा विशेष जोर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री की प्राथमिकता स्वच्छता है। उन्होंने शहर की स्वच्छता पर विशेष जोर देते हुए नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि शहर की नियमित सफाई हो तथा प्रतिदिन कूड़ा उठाया जाये। उन्होंने शहर के शौचालयों  को नियमित साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिए जाने की आवश्यकता पर जोर दिया। बोले- जी-20 का कार्यक्रम आगामी दिनों में होना है, अच्छी स्वच्छता व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने संभावित बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए सभी संभावित तैयारी पूर्ण किए जाने पर जोर देते हुए कहा कि बाढ़ की स्थिति में क्षेत्र के प्रभावित लोगों को तुरंत सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। राहत कार्यों में देरी नहीं होनी चाहिए। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सफाई व्यवस्था के साथ-साथ पुलिस की भी पेट्रोलिंग कराई जाए।

यह भी पढ़ें

राजस्व वसूली में तेजी लाने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने जन शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान आईजीआरएस, मुख्यमंत्री पोर्टल एवं अन्य माध्यमों से प्राप्त शिकायती प्रार्थना पत्रों का निस्तारण प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर निर्धारित समय सीमा में सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने नियमित समीक्षा कर राजस्व वसूली में तेजी लाने को कहा। राजस्व वादों को भी प्राथमिकता पर निस्तारण किए जाने पर विशेष जोर दिया। तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं राजस्व विभाग के फील्ड के अधिकारी  व कर्मचारी अपने-अपने तैनाती स्थल पर ही रात्रि निवास करें। थानेदार भी अपने-अपने थाना क्षेत्र में ही निवास करें। जनपद में वाहनों के अवैध स्टैंड कहीं भी नहीं रहने चाहिए।

ध्यान रखें, छोटी घटनाएं हो जाती हैं बड़ी

मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था की समीक्षा के दौरान होमगार्ड एवं पीआरडी के जवानों को प्रशिक्षित कर यातायात व्यवस्था में लगाए जाने का आदेश दिया। उन्होंने उद्यमियों एवं व्यापारियों की समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर किए जाने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया। चेन स्नेचिंग की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए उन्होंने कहा कि यह छोटी-छोटी घटनाएं बड़ी घटनाएं बन जाती हैं। पुलिस की क्षेत्रों में फूट पेट्रोलिंग नियमित रूप से कराई जाए। वाहनों पर जातिसूचक बोर्ड लगाकर कोई न चलने पाए, इस पर प्रभावी रूप से रोक लगाया जाय। शहर के सभी सीसीटीवी कैमरे काम करने चाहिए। अवैध खनन एवं वसूली पर रोक लगाए जाने पर भी उन्होंने विशेष जोर दिया। जनपद की सीमाओं पर  पैनी नजर रखी जाए। स्मार्ट सिटी के इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मॉनिटरिंग सिस्टम के सिग्नल की संख्या और बढ़ाए जाने का निर्देश दिया।

 बैठक में जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक टी राम, कमिश्नर कौशल राज शर्मा, पुलिस कमिश्नर अशोक मुथा जैन, जिलाधिकारी एस. राजलिंगम सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed