महाकुंभ 2025: ”प्रयागराज में 60 दिनों के लिए 2000 बेड की होगी व्यवस्था”, 100 हेक्टेयर जमीन पर बनेगी टेंट सिटी

1 min read

 

महाकुंभ में 100 हेक्टेयर में सजेगी टेंट सिटी, ‘प्रयागराज में 60 दिन तक रहेगा दो हजार बेड का इंतजाम’

  • श्रद्धालुओं के ठहरने की उचित व्यवस्था भी करायेगा पर्यटन विभाग
  • महाकुंभ में श्रद्धालुओं को नहीं होगी किसी प्रकार की कोई परेशानी
  • 60 दिनों तक श्रद्धालुओं के लिए दो हजार बेड की व्यवस्था रहेगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जयवीर सिंह ने बताया कि गंगा, यमुना और सरस्वती के पावन तट पर प्रयागराज (Prayagraj) में दुनिया के सबसे बड़े मेले के रूप में प्रसिद्ध महाकुंभ (Mahakumbh)- 2025 जैसे जैसे नजदीक आ रहा है, विभाग द्वारा तैयारियां भी उतनी तेज हो रही हैं। उन्होंने बताया कि देश-विदेश से आने वाले करोड़ों श्रद्धालुओं को सुव्यवस्थित तरीके से स्नान, ध्यान के साथ-साथ ठहरने (Tent city) का इंतजाम किया जा रहा है।

100 हेक्टेयर में टेंट सिटी सजाने की तैयारी

महाकुंभ-2013 के समय प्रयागराज में जनवरी, फरवरी और मार्च के महीने में कुल सात करोड़ 86 लाख 65 हजार पांच सौ पर्यटक आए थे, जबकि 2019 में अर्द्धकुंभ लगा था। इसमें तीन महीने के दौरान 24 करोड़ पांच लाख श्रद्धालु आए थे। इस प्रकार देखा जाय महाकुंभ की अपेक्षा अर्द्धकुंभ में 16 करोड़ 18 लाख 34 हजार पांच सौ ज्यादा श्रद्धालु पहुंचे थे। इसकी वजह यह कि प्रदेश की वर्तमान सरकार ने शुरू से ही कुंभ को बहुत ही गंभीरता से लिया।

यह भी पढ़ें

पर्यटन विभाग की पहल

उन्होंने बताया कि वहां श्रद्धालुओं की जरूरतों को देखते हुए बहुत तेजी से विकास कार्य कराए गए। इसका संदेश न केवल देश बल्कि दुनिया में फैला। इसी का नतीजा रहा कि वर्ष 2019 में देश-दुनिया से बड़ी संख्या में लोग स्नान ध्यान के लिए आए और यहां से सुखद स्मृति लेकर गए। पर्यटन मंत्री ने कहा कि पिछले कुंभ के आयोजन में सफलतम साबित हुई प्रदेश सरकार वर्ष-2025 में होेने वाले महाकुंभ की तैयारियां तेज कर दी है। उन्होंने बताया कि 2025 में भी पूर्व की तुलना में और अधिक श्रद्धालुओं के आने की संभावना है। दूर-दराज से आने वाले लोगों के सामने सबसे बड़ी समस्या ठहरने की होती है। पर्यटन विभाग इस समस्या का भी समाधान निकालने में जुटा है। पिछले दिनों आनलाइन आवास सुविधा उपलब्ध कराने वाली कंपनियों से भी एमओयू हुआ। पर्यटन निगम की ओर से टेंट कालोनी भी बनाई जाएगी।

टेंट सिटी में वैलनेस सेंटर व यज्ञशालाएं भी
पर्यटन मंत्री ने बताया कि महाकुंभ में टेंट सिटी के लिए तैयारी बहुत तेजी से चल रही है। कुंभ मेला प्राधिकरण अरैल में 100 हेक्टेयर भूमि उपलब्ध कराएगा। उन्होंने बताया कि टेंट सिटी में दो हजार बेड की व्यवस्था रहेगी। यहां विला, सुपर डिलक्स और डिलक्स श्रेणी में अलगक-अलग सुविधाएं मिलेंगी। फूड कोर्ट, वैलनेस सेंटर, यज्ञशाला आदि की भी व्यवस्था रहेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *