दरोगा का पुत्र बनना चाहता था आईपीएस: बहन ने कहा कि वह बहुत कुछ करना चाहता था, लेकिन UPSC में 3 बार फेल अटैम्प्ट से हार गया।

1 min read

ये तस्वीर मृतक मयूर रजक की बड़ी बहन आकांक्षा की है। जो बैंगलोर पीएचडी कर रही हैं।

झांसी में आग लगाकर चौथी मंजिल से कूदकर सुसाइड करने वाला दरोगा का बेटा मयूर रजक (26) IPS बनना चाहता था। उसकी बड़ी बहन आकांक्षा बताती हैं कि “वो बहुत कुछ करना चाहता था, लेकिन हो नहीं रहा था। UPSC में उसके 3 फेल अटैम्प्ट हो चुके थे। शायद उसको आगे का रास्ता समझ नहीं आ रहा था और उसने हारकर सुसाइड कर लिया।

 

मैंने उसको समझाने की कोशिश की। ये तक कहा कि तुम यूपीएसपी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *