अलीगढ समाचार: पड़ोसी की छत पर सिलिंडर लेने जाते वक्त हाईटेंशन लाइन में सटने से, करंट से एक युवा की मौत

1 min read

गांव बुलाकीपुर में पड़ोसी की छत पर सिलिंडर लाने गया युवक छत से होकर निकली हाईटेंशन लाइन के करंट की चपेट में आ गया। इससे युवक की मौत हो गई। उसकी बहन की लगन के लिए पकवान बनने थे, जिसके लिए सिलिंडर की जरूरत थी। युवक की मौत से खुशियों वाले घर में मातम पसर गया है।

 

संजय की छोटी बहन तनु का तीन मार्च को लगन और पांच मार्च को शादी है। इसी के लिए पकवान-मिठाई बननी थी। 27 वर्षीय संजय कुमार पुत्र परमाल सिंह 1 मार्च की सुबह करीब नौ बजे अपने पड़ोसी पदम सिंह की छत पर स्थित कमरे से गैस सिलिंडर लाने पहुंचे थे। छत पर पांच फुट ऊपर से ही हाईटेंशन लाइन निकली है, जिसमें संजय कुमार का सिर छू गया। इससे करंट से वह बुरी तरह से झुलस गए। जानकारी होते ही परिवार वाले उन्हें तत्काल डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे जहां उसे संजय कुमार को मृत घोषित कर दिया गया। उनकी मौत से परिवार वालों का रोकर बुरा हाल था।

परिवार की सूचना पर एसडीएम खैर दिग्विजय सिंह, एसडीओ प्रवीण कुमार, सीओ राजीव द्विवेदी व थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। मौका मुआयना कर एसडीएम ने छत के ऊपर से हाईटेंशन लाइन को हटाने का आदेश दिया। मृतक अपने पीछे पांच वर्ष का एक बेटा छोड़ गया। वह तीन बहनों के बीच में एकलौते भाई थे। उनकी पत्नी मोनिका और मां मिथलेश देवी का रोकर बुरा हाल था।

15 घरों के ऊपर झूल रही हाईटेंशन लाइन

 

ग्रामीणों के मुताबिक गांव के 15 घरों के ऊपर हाईटेंशन लाइन झूल रही है। यह छतों से महज पांच फुट ऊपर होगी। कई बार कहने के बावजूद विद्युत विभाग इसे नहीं हटवा रहा। इससे गांव में पहले भी हादसे हो चुके हैं। ग्रामीणों के अनुसार करीब पांच साल पहले अरुण पुत्र रमेश सिंह मौत हुई थी। इसके बाद कुछ काम करने आए गांव बालनपुर निवासी को करंट लगा था, जिनकी उपचार के बाद जान बच गई थी। कुछ माह पहले बुलाकीपुर निवासी मोहरश्री के पति महिपाल सिंह को भी छत से होकर निकली हाईटेंशन लाइन का करंट लगा था।

 

संजय की करंट से मौत होना बेहद दुखद है। विभागीय अधिकारियों को जांचकर कार्रवाई करने के लिए आदेशित कर दिया गया है। लापरवाही करने वाले कर्मचारियों को बक्शा नहीं जायेगा। जल्द ही घरों के ऊपर से निकली हाईटेंशन लाइन को हटवाने का भी आदेश दिया है। -अनूप प्रधान, राजस्व राज्यमंत्री।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed