गाजियाबाद में हिंसा का प्रदर्शन: घरेलू सहायिका को बंधक बनाकर पिटाई की गई, जो एक साल से मालकिन की सजा भुगत रही थी; ऐसे बच गया जीवन

दिल्ली से सटे गाजियाबाद की एक सोसाइटी से हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां एक नाबालिग घरेलू सहायिका को मकान मालिक द्वारा बंधक बनाकर पीटा गया है। एक एनजीओ ने उसे बचाया। इसके बाद इंदिरापुरम थाने में आरोपी महिला के खिलाफ शिकायत दी गई है।

 

जानकारी के अनुसार, इंदिरापुरम थाना इलाके में स्थित जनसत्ता अपार्टमेंट में एक घरेलू सहायिका के साथ बंधक बनाकर मारपीट करने का मामला सामने आया है। आरोप है कि महिला 17 साल की सहायिका को पिछले एक साल से प्रताड़ित कर रही थी।

सूचना मिलने के बाद एक एनजीओ की मदद से नाबालिग को मुक्त कराया गया। सहायिका के शरीर पर कई जगह चोट के निशान मिले हैं। नाबालिग सिलीगुड़ी की रहने वाली बताई जा रही है। सोसायटी के लोगों की मदद से उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुसिल को भी इस बारे में जानकारी दे दी गई है। जब नाबालिग से इसके बारे में बात की गई तो उसने बताया कि मालकिन उसे तरह तरह से प्रताड़ित करती है। शारीरिक और मानसित प्रताड़ना का यह दौर काफी लंबे समय से चल रहा है। उसने बताया कि 24 मार्च की रात में एक बार फिर उसके साथ मारपीट हुई, जिसके बाद वह घर से भागकर सोसाइटी में सीढ़ियों के नीचे छिप गई थी। जब सोसाइटी के अन्य लोगों की नजर उस पर पड़ी तो उन्होंने पुलिस और एनजीओ से संपर्क करने की कोशिश की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *