Live Mukhtar Ansari की मौत की खबर: धारा 144 लागू हुई , मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम जारी है; अलर्ट UP

1 min read

‘यूपी में मौत और हत्या का फर्क मिट गया’

गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी की मौत पर राजद सांसद मनोज कुमार झा ने कहा कि उत्तर प्रदेश एक अलग तरह का प्रदेश बन गया है। मौत और हत्या का फर्क मिट गया है। मौत और हत्या का फर्क जब मिट जाए तो अराजकता होती है।

‘फॉरेंसिक रिपोर्ट पर ही विश्वास किया जा सकता है’

मुख्तार अंसारी की मौत पर कैबिनेट मंत्री संजय निषाद ने कहा कि लोग जो संदिग्ध मौत की बात कहते हैं, वो जांच का विषय है। जांच में सत्यता के आधार पर बयान करना चाहिए। आज के दिन विज्ञान पर भरोसा करना चाहिए। फॉरेंसिक रिपोर्ट पर ही विश्वास किया जा सकता है। किसी की मौत पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

यूपी में ‘क़ानून-व्यवस्था का शून्यकाल: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि “हर हाल में और हर स्थान पर किसी के जीवन की रक्षा करना सरकार का सबसे पहला दायित्व और कर्तव्य होता है। सरकारों पर निम्नलिखित हालातों में से किसी भी हालात में, किसी बंधक या क़ैदी की मृत्यु होना, न्यायिक प्रक्रिया से लोगों का विश्वास उठा देगा

थाने में बंद रहने के दौरान

 

जेल के अंदर आपसी झगड़े में

 

⁠जेल के अंदर बीमार होने पर

 

न्यायालय ले जाते समय

 

⁠अस्पताल ले जाते समय

 

अस्पताल में इलाज के दौरान

 

झूठी मुठभेड़ दिखाकर

 

झूठी आत्महत्या दिखाकर

⁠किसी दुर्घटना में हताहत दिखाकर ऐसे सभी संदिग्ध मामलों में सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश की निगरानी में जांच होनी चाहिए। सरकार न्यायिक प्रक्रिया को दरकिनार कर जिस तरह दूसरे रास्ते अपनाती है वो पूरी तरह ग़ैर क़ानूनी हैं। जो हुकूमत जिंदगी की हिफ़ाज़त न कर पाये उसे सत्ता में बने रहने का कोई हक़ नहीं। उप्र ‘सरकारी अराजकता’ के सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है। ये यूपी में ‘क़ानून-व्यवस्था का शून्यकाल है।

काफिले के बीच में चलेंगी परिजनों की गाड़ियां

इसके बाद कोखराज हंडिया बाईपास से भदोही और भदोही से वाराणसी होते हुए गाजीपुर जाने का रूट तैयार किया गया है। एम्बुलेंस के साथ पुलिस-प्रशासन के अधिकारी भी रहेंगे। साथ ही, परिवार के लोगों की गाड़ियां काफिले के बीच में चलेंगी। आज ही मुख्तार को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा।

400 किमी के सफर में 26 गाड़ियों का काफिला रहेगा

वहीं, पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर गाजीपुर के लिए रवाना कर दिया जाएगा। इसके लिए बांदा से गाजीपुर का रूट प्लान तैयार किया गया। 400 किमी के सफर में 26 गाड़ियों का काफिला रहेगा। बांदा से फतेहपुर, कौशांबी होते हुए प्रयागराज में एंट्री होगी।

मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम जारी

अधिकारियों के मुताबिक, पहले पांच डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम की प्रक्रिया कराई जानी थी। लेकिन अब यह तय हुआ कि दो डॉक्टरों की टीम पोस्टमार्टम कर रही है। पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी कराई जा रही है। बिसरा  भी सुरक्षित रखा जाएगा।

मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम शुरू

मुख्तार अंसारी का बेटा उमर अंसारी हॉस्पिटल पहुंच गया है। उमर के साथ उसके तीन रिश्तेदार भी हैं। पंचनामा होने के बाद पोस्टमार्टम शुरू हो गया है।

घर से चार सौ मीटर दूर कब्रिस्तान में होगा सुपुर्दे खाक

मुख्तार अंसारी का पार्थिव शव शनिवार की दोपहर में आने की संभावना है। परिजनों के मुताबिक उनके शव को गाजीपुर के पैतृक कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा। यह कब्रिस्तान उनके घर से करीब चार सौ मीटर दूर है। इसी कब्रिस्तान में उनके पार्थिव शव को सुपुर्दे खाक किया जाएगा

 

रात साढ़े 12 बजे पोस्टमार्टम के लिए पहुंचा शव

मुख्तार की मौत के दो घंटे बाद यानि साढ़े बारह बजे के आसपास उसके शव को मेडिकल कॉलेज से पोस्टमार्टम हाउस पहुंचाया गया। शव के पोस्टमार्टम पहुंचते ही सारा फोर्स भी वहीं तैनात हो गया। पूरे पोस्टमार्टम हाउस की घेराबंदी कर दी गई। बैरिकेडिंग भी लगा दी गई। रात में पोस्टमार्टम शुरू नहीं किया गया है। माना जा रहा है कि मुख्तार के परिजन के सामने आज यह प्रकिया की जाएगी।

Mukhtar Ansari Death News Live: मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम जारी, कई जिलों में धारा 144; UP में अलर्ट

करीब ढाई साल से बांदा जेल में बंद पूरब के माफिया मुख्तार अंसारी की गुरुवार देर रात हार्ट अटैक (कार्डिया अरेस्ट) से मौत हो गई। मुख्तार को मौत से करीब तीन घंटे पहले ही इलाज के लिए मंडलीय कारागार से मेडिकल कॉलेज लाया गया था। जहां नौ डॉक्टरों की टीम उसके इलाज में जुटी थी। रात करीब साढ़े दस प्रशासन ने मुख्तार की मौत की सूचना सार्वजनिक की। तब तक मुख्तार के परिवार का कोई सदस्य मेडिकल कॉलेज नहीं पहुंचा था। मुख्तार की मौत के बाद पूरे यूपी में अलर्ट जारी किया गया है। कई जिलों में धारा 144 लागू कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed