सनातन धर्म विवाद सनातन धर्म के अपमान से नाराज महंत बोले- हम अयोध्या से दिल्ली तक संघर्ष करेंगे: मुकेश श्रीवास्तव

1 min read

 

सनातन धर्म के अपमान पर भड़के महंत, बोले- हम अयोध्या से दिल्ली तक संघर्ष करेंगे: मुकेश श्रीवास्तव

अयोध्या: उदयनिधि स्टालिन,ए रजा और स्वामी नारायण संप्रदाय के संत द्वारा सनातन धर्म के अपमान पर अयोध्या भड़क उठी। क्रोध से लाल हुए महंतों ने आज श्रीरामवल्लभाकुंज के महाराज राजकुमार दास की अध्यक्षता में बैठक कर अयोध्या कोतवाल को आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज करने के लिए तहरीर दी। कहा गया कि संत सनातन के लिए अयोध्या से दिल्ली तक संघर्ष करेंगे।उन्होंने कहा कि सनातन विरोधियों ने नाथ संप्रदाय के संतों को राक्षस कहकर अपमानित किया है। इस संप्रदाय के सर्वोच्च पीठ के आचार्य योगी आदित्यनाथ महाराज हैं। वे हमारे सीएम भी हैं। हमने इसके खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय को पत्र लिखा है और अयोध्या पुलिस को कार्यवाही के लिए तहरीर भी दी है।

सनातन धर्म की स्वीकार्यता विदेशों में भी बढ़ रही है- महाराज राजकुमार दास

महाराज राजकुमार दास ने कहा कि चाहे स्टालिन हो या राजा हो। सस्ती राजनीति के लिए यह लोग सनातन धर्म का विरोध कर रहे हैं। पर गोस्वामी तुलसी दास ने लिखा है कि राम विरोधियों का नाश हो जाता है।

सनातन धर्म की स्वीकार्यता विदेशों में भी बढ़ रही है। ऐसे में हमारे ही देश में हमारे देवताओं का विरोध केवल खुद के स्वार्थ के लिए है। इन लोगों के विरोध में हम लोग पीएम से मिलने से लेकर सर्वोच्च न्यायालय तक संघर्ष करेंगे।उन्होंने कहा कि सनातन विरोध करने वाले देश की एकता और अखंडता को नुकसान पहुंचा रहे हैं। देश में सबका साथ सबका विकास की बात हो रही है। समाज का माहौल खराब करने वाले लोगों का देश और समाज की ओर से बहिष्कार होना चाहिए। मीडिया से भी हमारा अनुरोध है कि वह ऐसे तत्वों का बहिकार करे। उदयनिधि स्टालिन के खिलाफ कड़ी कार्यवाही क उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

ऐसा ही होता कांग्रेस गर्त में नहीं चली जाती

जगदगुरु स्वामी रामदिनेशाचार्य ने कहा कि सनातन धर्म की ओर से हम किसी का अपमान नहीं करते। पर हमारा विरोध कर सत्ता पर काबिज होने की होड़ मची है। ऐसे लोगों के लिए कड़ा कानून बना कर इसे लागू करना चाहिए। ऐसे लोगों पर राष्ट द्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए।कांग्रेस मोहब्बत की दुकान है। ऐसा बयान देने वाले पार्टी अध्यक्ष खड़गे के बयान पर उन्होंने कहा कि ऐसा ही होता कांग्रेस गर्त में नहीं चली जाती।

एकाध का सिर कलम होगा तभी सनातन का विरोध रुकेगा

पंचमुखी हनुमान मंदिर के महंत कमलादास रामायणी ने कहा कि स्वामी नारायण संप्रदाय के लोग हनुमान जी की निंदा कर रहे है।यह सब राजनीति से प्रेरित है। लबे हनुमान मंदिर के महंत छबिराम दास ने कहा कि विरोधियों में एकाध का सिर कलम होगा तभी सनातन का विरोध रुकेगा।पत्थर मंदिर के महंत मनीष दास ने कहा कि जब संत विरोध करेंगे तो सनातन विरोधी नेताओं को ठिकाना नहीं मिलेगा।

हनुमान मंदिर से उनके पूरे संप्रदाय का खर्च चल रहा है-महंत जनार्दन दास

तुलसी दास छावनी के महंत जनार्दन दास ने कहा कि हमारे भगवान और धर्मग्रंथ का अपमान सस्ती राजनीति का अंग है।स्वामी नारायण संप्रदाय के लोग हनुमान जी का अपमान कर रहे हैं। जबकि हनुमान मंदिर से उनके पूरे संप्रदाय का खर्च चल रहा है। हनुमान जी देवता है और अयोध्या में उनके मंदिर में आकर स्वामी नारायण संप्रदाय के संत अभिषेक कराते हैं।

नित्य सरयू महा आरती समिति के अध्यक्ष महंत शशिकांत दास ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ को राक्षस बताने का जोरदार विरोध होगा। स्वामी नारायण संप्रदाय के लोग ऐसा कर करोड़ों लोगों की भावनाओं को आहत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दुष्टता को सहन करना भी पाप है।

आंदोलन से ही न्याय मिलता रहा है-महंत रामदास

सिद्धपीठ नाका हनुमानगढ़ी के महंत रामदास ने कहा कि आंदोलन से ही न्याय मिलता रहा है।इसका रास्ता भी आंदोलन से निकलेगा।हम गोरक्षा आंदोलन की तरह ही दिल्ली तक जाकर सनातन धर्म की रक्षा के लिए अयोध्या से लेकर दिल्ली तक जोरदार आंदोलन करेंगे। इस अवसर पर महंत रामजी शरण,महंत गिरीश दास, महंत गंगा दास आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।संचालन भाजपा नेता श्रीकांत द्विवेदी ने किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed